नैनीताल में घूमने की जगह || नैनीताल की प्रसिद्ध दर्शनीय स्थल

 नैनीताल में घूमने की जगह ,नैनीताल की प्रसिद्ध दर्शनीय स्थल

Places to visit in Nainital, famous sights of Nainital

हेलो दोस्तो स्वागत आपका हमारे  ब्लॉग के आज की नई पोस्ट में  जिसमें हम बात करने वाले हैं नैनीताल के दर्शनीय स्थल के बारे में वैसे तो नैनीताल में घूमने की जगह की कमी नहीं है लेकिन आज हम कुछ ऐसी जगह के बारे में जानकारी साझा करने वाले हैं जिन्हें देखकर आपका दिल हमेशा नैनीताल में यात्रा करने की सोचेगा तू चलिए अब टॉपिक पर आते हैं

नैनीताल

 Nainital

भारत के उत्तराखंड राज्य में बसा नैनीताल भारत का प्रसिद्ध पर्यटक स्थल के रूप में जाना जाता है और साथ में यह नैनीताल जिले का मुख्यालय के लिए भी जाना जाता है समुद्र तल से 2084 मीटर की ऊंचाई पर स्थित नैनीताल चारों दिशाओं में पहाड़ों से ढका हुआ है जिसके कारण यहां का मौसम हमेशा सामान्य बना रहता है नैनीताल में ग्रीष्म काल समशीतोष्ण  होता है जिसमें आमतौर पर अधिकतम तापमान 27 डिग्री के आसपास होता है साथ ही सर्दियों में यहां का तापमान 10 डिग्री सेल्सियस के करीब रहता है एक रिपोर्ट के मुताबिक नैनीताल की आबादी गर्मियों में  पांच गुना बढ़  जाती  हैं जिस। का सीधा कारण है कि गर्मियों में नेनीताल  में पर्यटकों का आना-जाना लगा रहता है

यह भी पड़े - शिमला के प्रसिद्ध पर्यटन स्थल || Shimla Ke Darsniya Isthal

नैनीताल की फेमस चीज़ क्या है? नैनीताल कैसे जाए? नैनीताल कहाँ पड़ता है? नैनीताल में कितने ताल हैं?  Image of नैनीताल झील नैनीताल झील नैनीताल जिला कब बना नैनीताल ट्रिप नैनीताल न्यूज़ नैनीताल की खोज किसने की नैनीताल न्यूज़ दैनिक जागरण नैनीताल होटल नैनीताल नगर पालिका की स्थापना
Image Source By - commons


नैनीताल की खोज किसने की

Who discovered nainital

जब कभी भी बात नैनीताल के बारे में की जाती है तो सबसे पहले लोगों के पास यही प्रश्न होता है कि नैनीताल की खोज किसने की होगी, इसी प्रश्न का उत्तर मिलता है हमें उत्तराखंड के इतिहास में दरअसल इतिहास से पता चलता है कि नैनीताल की खोज सन 1840 में पी बोरन ने नैनीताल की खोज की थी इसके बाद यह शहर धीरे-धीरे विकसित होता गया और आज पूरे भारत में प्रसिद्ध पर्यटक स्थल के रूप में जगह बनाए हुआ है 

नैनीताल में घूमने की जगह

Places to visit in Nainital

नैनी झील  - नैनीताल में घूमने की जगह की श्रेणी में सबसे पहले नैनी झील का नाम लिया जाता है दरअसल नैनी झील नैनीताल से लगभग 1 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है चारों तरफ पहाड़ और पहाड़ों के बीच में स्थित नैनी झील पर्यटकों का आकर्षण स्थल बना हुआ है इस झील के बारे में बताया जाता है कि जब  अत्री, पुलसत्य और पुलह ऋषि जी को नैनीताल में कहीं पर भी पानी नहीं मिला तो उन्होंने एक गड्ढा खोदने की योजना बनाई और इस गड्ढे को मानसरोवर झील से पानी लेकर भर दिया तब से धीरे-धीरे इस गड्ढे में परिवर्तन हुआ और आज यह एक बड़ी सी झील के रूप में जानी जाती है कहा जाता है कि इस झील में डुबकी लगाने से उतना ही पुण्य प्राप्त होता है जितना मान सरोवर में डुबकी लगाने से मिलता है 64 शक्तिपीठों में से प्रसिद्धि है झील 1432 मीटर गहरा है और साथ ही यह 457 मीटर चौड़ा भी है यदि आपको नौकायान के साथ-साथ प्राकृतिक सुंदरता पसंद है तो यह आपके लिए परफेक्ट प्लेस है  झील में नौकायन करते समय झील में पेड़ों और पर्वतों का प्रतिदिन आपको नौकायन सफर को हसीन और यादगार बना देगा

नैनीताल की फेमस चीज़ क्या है? नैनीताल कैसे जाए? नैनीताल कहाँ पड़ता है? नैनीताल में कितने ताल हैं?  Image of नैनीताल झील नैनीताल झील नैनीताल जिला कब बना नैनीताल ट्रिप नैनीताल न्यूज़ नैनीताल की खोज किसने की नैनीताल न्यूज़ दैनिक जागरण नैनीताल होटल नैनीताल नगर पालिका की स्थापना
Image Source By - commons


स्नो व्यू -
  नैनीताल से ढाई किलो मीटर की दूरी पर स्थित स्नो व्यू नैनीताल के प्रसिद्ध दर्शनीय स्थलों के रूप में भी जाना जाता है यदि आपको हिमालय देखना और बर्फ के साथ खेलना पसंद हैं तो यह जगह आपके सफर को यादगार बनाने वाली है दरअसल आप यहां से हिमालय पर्वत के दर्शन भी कर सकते हैं और यदि आपको स्नो एडवेंचर का शौक है तो आप एक अच्छी जगह आए हुए हैं आप यहां आराम से स्नो एडवेंचर का खेल भी खेल सकते हैं आपको एक बात और बता दें कि यदि आप नवंबर से दिसंबर के मध्य नैनीताल के दर्शन करते हैं तो आपको इसमें स्नो व्यू का नजारा और अधिक अच्छा और बर्फीला दिखाई देगा स्नो व्यू में पर्वत, पहाड़ और आसपास की घाटियों के दृश्य के अलावा यहां पर एक मंदिर का निर्माण भी है और साथ में छोटे-छोटे बच्चों के खेलने के लिए एक पार्क का निर्माण किया गया है यह मंदिर हिन्दू देवी मुंडी को समर्पित है इस मंदिर में राम लक्ष्मण सीता के साथ साथ अन्य हिंदू देवी देवताओं के चित्र भी बनाए गए हैं याद आप ट्रैवल के लिए प्लान बना रहे हैं तो आपको स्नो व्यू कि बारे में जरूर सोचना  चाहिए

यह भी पड़े - राजस्थान में घूमने की जगह || Best Place For Travel To Rajisthan

नैनीताल की फेमस चीज़ क्या है? नैनीताल कैसे जाए? नैनीताल कहाँ पड़ता है? नैनीताल में कितने ताल हैं?  Image of नैनीताल झील नैनीताल झील नैनीताल जिला कब बना नैनीताल ट्रिप नैनीताल न्यूज़ नैनीताल की खोज किसने की नैनीताल न्यूज़ दैनिक जागरण नैनीताल होटल नैनीताल नगर पालिका की स्थापना
Image Source By - commons


मॉल रोड -
माल रोड भी नैनीताल के प्रसिद्ध पर्यटक स्थल हैं यह नैनीताल का एकमात्र ऐसा पर्यटक स्थल है जो मल्लीताल को तल्लीताल से जोड़ता है घूमने की दृष्टि से भी मॉल रोड काफी सुंदर है दुकानों और बाजारों के अलावा इसमें बहुत से बैंक और साथ में ट्रेवल एजेंसी डेरा जमाए बैठे हैं यह नैनी झील की दूसरी साइड पर स्थित है जिससे इस रोड में सफर करना काफी हसीन लगता है वर्तमान में मॉल रोड के नाम में परिवर्तन करके गोविंद बल्लभ पंत रखा गया है आप यहां दिन में शॉपिंग के अलावा शाम ठंडी हवा का आनंद लेते लेते समय भी  आप मॉल रोड का दृश्य देख सकते हैं

नैनीताल की फेमस चीज़ क्या है? नैनीताल कैसे जाए? नैनीताल कहाँ पड़ता है? नैनीताल में कितने ताल हैं?  Image of नैनीताल झील नैनीताल झील नैनीताल जिला कब बना नैनीताल ट्रिप नैनीताल न्यूज़ नैनीताल की खोज किसने की नैनीताल न्यूज़ दैनिक जागरण नैनीताल होटल नैनीताल नगर पालिका की स्थापना
Image Source By - commons


टिफिन टॉप -
नैनीताल से महज 4 किलोमीटर की दूरी पर स्थित टिफिन टॉप केवल भारतीय पर्यटकों का ही नहीं बल्कि विदेशों से आए पर्यटकों का भी प्रसिद्ध दर्शनीय स्थल बना हुआ है समुद्र की सतह से लगभग 7520 फीट की ऊंचाई पर स्थित टिफिन टॉप अयरपट्टा पर स्थित है यहां से पर्यटक चारों दिशाओं में स्थित गांव घाटियों के साथ-साथ विशाल हिमालय के नजारों का आनंद ले सकते हैं उचाई पर स्थित होने के कारण जो पर्यटक पैदल यात्रा  नहीं करना चाहते हैं उनके लिए अच्छा विकल्प है कि वह घुड़सवारी  का आनंद लेते हुए भी टिफिन टॉप पर पहुंच सकते है  दरअसल का दूसरा नाम डोरोथी है जो कि एक महिला के नाम पर रखा गया था जिसका नाम केलेट डोरोथी  था यह बात आपको याद रखनी चाहिए ताकि जब भी आप यहां आए तो उसके नाम में कोई कंफ्यूजन ना रहे और आप आराम से टिफिन टॉप यानी कि डोरोथी के दर्शन कर पाएं

नैनीताल की फेमस चीज़ क्या है? नैनीताल कैसे जाए? नैनीताल कहाँ पड़ता है? नैनीताल में कितने ताल हैं?  Image of नैनीताल झील नैनीताल झील नैनीताल जिला कब बना नैनीताल ट्रिप नैनीताल न्यूज़ नैनीताल की खोज किसने की नैनीताल न्यूज़ दैनिक जागरण नैनीताल होटल नैनीताल नगर पालिका की स्थापना
Image Source By - commons


G. B पंत जू -
नैनीताल  के दर्शनीय स्थलों की सूची में गोविंद बल्लभ पंत उद्यान का नाम भी कम प्रशिद्ध नही है  नैनीताल से लगभग  एक किलोमीटर की दूरी पर स्थित पंत जू समुन्दर  ताल से लगभग  एक  2100 मी  की उचाई  पर  स्थित है  इस  चिड़िया घर में आपको  विभिन्न प्रकार के  जानवर देखने को मिलेंगे यदि आप नैनीताल आये है तो आप को  एक न  एक बार इस जू के दर्शन जरूर करने चाहिए  लेकिन आपको एक  बात और बात दे की यह  चिड़िया घर  सोमवार के साथ साथ सभी  राष्टीय  अवकाश के दिनों पर भी नजर डाल के आये

यह भी पड़े - हरियाणा के दर्शनीय स्थल || Hariyana Main Ghumne Ki Jagah

नैनीताल की फेमस चीज़ क्या है? नैनीताल कैसे जाए? नैनीताल कहाँ पड़ता है? नैनीताल में कितने ताल हैं?  Image of नैनीताल झील नैनीताल झील नैनीताल जिला कब बना नैनीताल ट्रिप नैनीताल न्यूज़ नैनीताल की खोज किसने की नैनीताल न्यूज़ दैनिक जागरण नैनीताल होटल नैनीताल नगर पालिका की स्थापना
Image Source By - commons


केव गार्डन -
नैनीताल के प्रसिद्ध एंडवेंचर प्लेस के रूप में जाना जाने वाला केव गार्डन पर्यटकों का आकर्षण का केन्द्र बना हुआ है दरअसल नैनीताल के मॉल रोड से लगभग 2 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है यदि आपको एडवेंचर पसंद है तो आपके लिए यह परफेक्ट प्लेस है केव गार्डन एक गुफा है जहां आपको विभिन्न प्रकार के पहाड़ और पत्थर मिलेंगे , इस केव में आपको 6 गुफाएं देखने को मिलेंगे जो अलग अलग जानवरों के नाम की है वो इसलिए क्यों की उन गुफाएं की आकृतियां जानवरों से मिलती जुलती है जिस कारण गुफावो का नाम संबंधित आकृति को देख कर पड़ा, एडवेंचर लवर को यहां एक ना एक बार जरूर विजिट करना चाहिए

नैनीताल की फेमस चीज़ क्या है? नैनीताल कैसे जाए? नैनीताल कहाँ पड़ता है? नैनीताल में कितने ताल हैं?  Image of नैनीताल झील नैनीताल झील नैनीताल जिला कब बना नैनीताल ट्रिप नैनीताल न्यूज़ नैनीताल की खोज किसने की नैनीताल न्यूज़ दैनिक जागरण नैनीताल होटल नैनीताल नगर पालिका की स्थापना
Image Source By - commons


नैनीताल में क्या प्रसिद्ध और क्या फेमस है

What is famous and famous in nainital

अक्सर लोगों के द्वारा यह प्रश्न भी पूछा जाता है कि नैनीताल में काया क्या प्रसिद्ध है और नैनीताल में क्या क्या फेमस है तो आपको बता दे की नेनीताल आपने दर्शनीय स्थनों के कारण तो लाखों पर्यटकों का पसंद तो है ही साथ में यह नेचरल ब्यूटी, पहाड़ , पर्वत बर्फ की चोटियां झीलों और फूलों की घाटियों के लिए भी प्रसिद्ध है और आपको एक बात और बता दे कि पर्यटकों को नैनीताल में स्थित उत्तराखंड का खान पान मिठाईयां भी लोगों को बहुत पसंद आती है 

यह भी पड़े - आगरा में घूमने की जगह || Agra Main Ghumne Ki Jagah

नैनीताल कब जाए

When to go to nainital

लगभग सभी पर्यटकों के नैनीताल आगमन से पहले यही प्रसं होता है कि नैनीताल का जाए , नैनीताल जाने का अच्छा समय कौन सा रहेगा , तो दोस्तो आपको बता दें कि नेनीताल में वर्ष के सभी महीनों में जा सकते है क्यों की यहां का मौसम सदैव अनुकूल बना रहता है आदि आप शहरों की गर्मी से तंग आ गए है तो आप आपने छुट्टियां मनाने नैनीताल में गर्मियों में भी आ सकते है इसके अलावा यदि आपको स्नोफॉल देखने का शौक है तो आप अक्टूबर से दिसंबर में भी यहां के दर्शन कर सकते हैं    

नैनीताल में रुकने के लिए होटल

Best Hotel For stay in Nainital

  • होटल सुन्तेज प्लाज़ा
  • होटल कोहिनूर
  • गोरूम्गो लोरेंट मेनर मल्लीताल
  • तारा होटल
  • होटल हैप्पी होम
  • होटल न्यू भरत 
नैनीताल कैसे जाएं

How to Go Nainital

यदि आप  नैनीताल की यात्रा करना चाहते हैं तो यह शहर रोड मार्ग, वायु मार्ग, तथा रेल मार्ग, तीनों मार्ग से पूरी तरह कनेक्ट है आप किसी भी मार्ग के जरिए यहां तक पहुंच सकते हैं लोकल क्षेत्र की यात्रा आपको पर्सनल गाड़ी या किसी अन्य साधन के द्वारा करनी होगी

 सड़क मार्ग- यदि सड़क मार्ग के जरिए नैनीताल पहुंचना चाहते हैं तो यह शहर देश की राजधानी दिल्ली से लगभग 306 किलोमीटर की दूरी पर तथा वही देहरादून से यह शहर 282 किलोमीटर की दूरी पर है साथ ही उत्तराखंड के रामनगर से यह शहर 68 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है

 रेल मार्ग - रेल मार्ग से भी नैनीताल पहुंचा जा सकता है नैनीताल का नेयर रेलवे स्टेशन काठगोदाम है जो कि दिल्ली से 296 किलोमीटर की दूरी तय करती है साथ ही देहरादून से 278 किलोमीटर की दूरी तय कर सकता है 
 

वायु मार्ग - वायु मार्ग की बात करें तो नैनीताल नियर पंतनगर है जो की नेनीताल से 69 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है यहां से आपको सभी प्रदेश की घरेलू उड़ानें मिल जाएगी  

टिप्पणी पोस्ट करें