कुल्लू में घूमने की जगह, Best Place For Travel To Kullu

कुल्लू में घूमने की जगह, Best Place For Travel To Kullu

हेलो दोस्तों स्वागत है आपका हमारे ब्लॉग की आज की नहीं पोस्ट में जिसमें हम बात करने वाले हैं कुल्लू के प्रसिद्ध दर्शनीय स्थल के बारे में कुल्लू हिमाचल प्रदेश का एक जिला है जहां के बारे में आज हम कुल्लू के प्रसिद्ध दर्शनीय स्थल के बारे में बात करने वाले हैं इसी आर्टिकल में हमले में जानेंगे कुल्लू के इतिहास के बारे में और कुल्लू में यात्रा करने का सबसे अच्छा समय होने के साथ-साथ कुल्लू का मौसम किस प्रकार से बना रहता है तो इस पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़ना,
कुल्लू में क्या फेमस है? कुल्लू मनाली कब जाना चाहिए? मनाली क्यों प्रसिद्ध है? कुल्लू का पुराना नाम क्या है? मनाली में घूमने की जगह शिमला में घूमने की जगह कुल्लू मनाली के बारे में जानकारी हिमाचल प्रदेश में घूमने की जगह मनाली के बारे में जानकारी in Hindi कुल्लू मनाली किस राज्य में है कुल्लू से मनाली की दूरी कितनी है मनाली में स्नोफॉल कब होता है

कुल्लू के बारे में, About To Kullu

कुल्लू भारत के हिमाचल राज्य का जिला है पहाड़ों की खूबसूरत वादियां समेटे कुल्लू समुद्र तल से 1279 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है प्राकृतिक सुंदरता और हिमाचली संस्कृति की परंपरा और वास्तु कला के साथ शिल्प कला कीजिए यह जिला काफी प्रसिद्ध है लगभग 30000 लोगों की आबादी वाला यह जिला 5503 किलोमीटर के क्षेत्रफल में फैला हुआ है कुल्लू जिला कुल्लू घाटी के व्यास नदी के किनारे में बसा हुआ है एक बेहद खूबसूरत पर्यटक स्थल है यह न केवल भारतीय लोगों का पर्यटक स्थल है बल्कि देश विदेशों से आने वाले पर्यटकों के लिए यह एक आकर्षण स्थल बना हुआ है खास तौर पर गर्मियों के मौसम में यहां पर पर्यटन यात्रा के लिए आया करते हैं कुल्लू का ठंडा मौसम गर्मी से जूझ रहे शहरी क्षेत्रों के लोगों के लिए एक अच्छा गंतव्य है यदि आप हिमांचल की यात्रा का प्लान बना रहे हैं तो आप अपनी यात्रा सूची में कुल्लू जिले को जरूर शामिल करें,

कुल्लू का मौसम, kullu Weather

कुल्लू जो है वह भारत के हिमाचल प्रदेश का एक जिला होने के कारण चारों तरफ से यह पहाड़ों से ढका हुआ है जिसके चलते यहां का मौसम काफी सामान्य बना रहता है वर्ष के 12 महीनों में से यहां पर 3 महीने गर्मी पड़ती है और 9 महीने ठंड का मौसम रहता है वर्ष का मई से लेकर जुलाई तक का महीना सबसे गर्म वहां होता है इसके बीच यहां का तापमान लगभग 25 डिग्री से 33 डिग्री सेल्सियस के आसपास बना रहता है वही बात की जाए सर्दियों के मौसम की तो यहां पर अक्टूबर से लेकर फरवरी तक मौसम ठंडा बना रहता है इसके बीच आपको यहां पर बर्फ भी देखने को मिल जाती है कभी-कभी तो यहां का तापमान माइनस डिग्री में भी चला जाता है जिसके कारण यहां के लोगों को काफी दिक्कत का सामना करना पड़ता है मानसून की बात की जाए तो जुलाई से सितंबर के बीच मानसून प्रवेश कर जाती है इस बीच यहां पर काफी बारिश देखने को मिल जाती है

कुल्लू में घूमने की जगह, Best Place For Travel To Kullu
  1. खोखान वन्य जीव अभ्यारण 
  2. आदि ब्रह्मा मंदिर
  3. कुल्लू घाटी 
  4. रघुनाथ मंदिर 
  5. ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क
  6. महादेवी तीर्थ
खोखान वन्य जीव अभ्यारण - प्रकृति प्रेमी और प्रकृति के समीप यात्रा करने वाले पर्यटकों की पसंद हमेशा पहाड़ों और वन्य जीव जंतुओं से लेकर वनस्पतियों की चाह में होती हैं खोखान वन्य जीव अभ्यारण इन स्थानों में से एक है जहां पर आप प्रकृति की समीप होकर प्रकृति की सुंदरता और बनावट को महसूस कर सकते हैं या पर आपको विभिन्न प्रकार के वनस्पतियों के अलावा जंगली जानवरों की दुर्लभ प्रजातियां भी देखने को मिल जाती है, कुल्लू से लगभग 19 किलोमीटर की दूरी पर स्थित खोखान वन्य जीव अभ्यारण स्तनधारी प्राणियों का एक घर है लगभग 14 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्र में फैला यह अभ्यारण के अंदर आपको विविध प्रकार के जंगली जानवर देखने को मिल जाते हैं जैसे तेंदूवा भालू, कस्तूरी मृग, भेड़, आदि प्रकार के जानवर यहां पाए जाते हैं, यहां पर आप न केवल प्रकृति के सभी होते हैं बल्कि आप एडवेंचर के शौकीन हैं तो यहां पर आप एडवेंचर भी कर सकते हैं और कैंपिंग के लिए यह काफी अच्छी जगह है,
कुल्लू में क्या फेमस है? कुल्लू मनाली कब जाना चाहिए? मनाली क्यों प्रसिद्ध है? कुल्लू का पुराना नाम क्या है? मनाली में घूमने की जगह शिमला में घूमने की जगह कुल्लू मनाली के बारे में जानकारी हिमाचल प्रदेश में घूमने की जगह मनाली के बारे में जानकारी in Hindi कुल्लू मनाली किस राज्य में है कुल्लू से मनाली की दूरी कितनी है मनाली में स्नोफॉल कब होता है

आदि ब्रह्मा मंदिर - प्रसिद्ध मंदिर हिंदू देवता ब्रह्मा को समर्पित यह मंदिर भुंतर से लगभग 4 किलोमीटर की दूरी पर स्थित हैं खोखान गांव के समीप में स्थित यह मंदिर का निर्माण लकड़ी से डिजाइन किया गया है मंदिर में जमुना के मूर्ति के साथ साथ मंदिर के बीच में मुहावरे और इस बार किया मुखोटे के साथ रख रखा गया है जिनके बारे में बताया जाता है कि यह आट धातुओं के मिश्रण से बनी है शिवालय शैली से निर्मित मंदिर वास्तुकला का एक जगमगाता उदाहरण है , बताया जाते हैं कि यहां ब्रह्मा की 5 मंदिरों में से प्रसिद्ध मंदिर है जो कि कुल्लू घाटी में स्थित हैं इस हिंदी में यात्रा करके यहां भगवान ब्रह्मा के दर्शन करके आशीर्वाद प्राप्त कर सकते हैं और हिमाचली कुल्लू की वास्तु कला और शिल्प कला के अद्भुत नजारों के साथ प्राकृतिक सुंदरता का आनंद कह सकते हैं,

कुल्लू घाटी - व्यास नदी के तट पर स्थित कुल्लू घाटी हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले का एक प्रसिद्ध पर्यटक गंतव्य है राजधानी शिमला से यह 192 किलोमीटर की दूरी पर स्थित हैं 75 किलोमीटर लंबी और लगभग 4 किलोमीटर चौड़ी एक घाटी मैं आपको आकर्षण देखने को मिल जाते हैं प्रसिद्ध घाटी अपने मंदिरों और खूबसूरत देवदार के जंगलों और सेब के विशाल बागों से ढकी हुई है यदि आप प्रकृति प्रेमी हैं और आपको एडवेंचर का शौक है तो यह जगह आपके लिए बहुत अच्छी होने वाली है क्योंकि यहां आकर आप प्रकृति के बिल्कुल समीप हो कर भी एडवेंचर कर सकते हैं, एडवेंचर और रोमांस भरे इस घाटी के रास्ते काफी खूबसूरत हैं कभी आपको चट्टाने देखने को मिलेंगे तो कभी आपको ऊंचे ऊंचे पहाड़ों में बर्फ देखने को मिल जाती हैं तो कभी आपको पेड़ पौधों से निर्मित तरह-तरह की आकृतियां देखने को मिल जाती है लेकिन रासा थोड़ा साहसिक रहता है,
कुल्लू में क्या फेमस है? कुल्लू मनाली कब जाना चाहिए? मनाली क्यों प्रसिद्ध है? कुल्लू का पुराना नाम क्या है? मनाली में घूमने की जगह शिमला में घूमने की जगह कुल्लू मनाली के बारे में जानकारी हिमाचल प्रदेश में घूमने की जगह मनाली के बारे में जानकारी in Hindi कुल्लू मनाली किस राज्य में है कुल्लू से मनाली की दूरी कितनी है मनाली में स्नोफॉल कब होता है

रघुनाथ मंदिर - जैसा कि आप जानते ही हैं की कुल्लू में देवी देवताओं का निवास स्थान है इसलिए रघुनाथ मंदिर में दर्शन करना सभी पर्यटकों का एक कर्तव्य और जुनून होता है समुद्र तल से 2056 मीटर की ऊंचाई पर स्थित रघुनाथ मंदिर कुल्लू के प्रमुख आकर्षणों में से एक हैं भगवान राम को समर्पित यह मंदिर भक्तों का आस्था का प्रतीक बना हुआ है मंदिर के निर्माण विषय में बताया जाता है कि राजा जगत सिंह ने अपने पापों का प्रायश्चित करने के लिए 1660 मैं इस मंदिर का निर्माण किया था भगवान राम के भक्त होने के कारण दो नहीं आता है प्रभु श्री राम की प्रतिमा स्थापित की थी, इस मंदिर को कुल्लू की सबसे पुराने मंदिरों मैं से एक माना जाता है यहां की प्राकृतिक सुंदरता और रोमांस भरा वातावरण पर्यटकों को काफी पसंद आता है ,

ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क - यह न केवल हिमाचल प्रदेश के प्रसिद्ध पाठकों में से एक है बल्कि भारत के राष्ट्रीय उद्यानों में इस ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क का नाम काफी शीर्ष स्थान पर है समुद्र तल से सोलह सौ मीटर की ऊंचाई पर स्थित इस बार के अंदर आपको स्तनधारी प्राणियों के साथ पक्षी और वन्य जीव के साथ वनस्पतियां देखने को मिल जाती हैं 1171 किलोमीटर के क्षेत्र में फैला ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क साहसिक कार्य के लिए काफी प्रसिद्ध स्थान है एडवेंचर के शौक रखने वाले लोगों के लिए यह एक रोमांच भरा गंतव्य होने वाला है पार्क में आपको 375 से अधिक जीवो की प्रजातियां देखने को मिल जाती हैं जिनमें स्तनधारी प्राणियों के साथ पक्षियों ,सरीसृपा, उभयचरों , और एनेलिड्स हाथी पाए जाते हैं यदि आप कुल्लू की यात्रा का प्लान बना रहे हैं तो आपको ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क की यात्रा जरूर करनी चाहिए आप यहां अपने दोस्तों के साथ आ सकते हैं और एडवेंचर की गतिविधियों के साथ-साथ आप यहां पर कैंपिंग भी कर सकते हैं,
कुल्लू में क्या फेमस है? कुल्लू मनाली कब जाना चाहिए? मनाली क्यों प्रसिद्ध है? कुल्लू का पुराना नाम क्या है? मनाली में घूमने की जगह शिमला में घूमने की जगह कुल्लू मनाली के बारे में जानकारी हिमाचल प्रदेश में घूमने की जगह मनाली के बारे में जानकारी in Hindi कुल्लू मनाली किस राज्य में है कुल्लू से मनाली की दूरी कितनी है मनाली में स्नोफॉल कब होता है

महादेवी तीर्थ - मां देवी तीर्थ स्थल का नाम भी कुल्लू के प्रसिद्ध दार्शनिक स्थलों में दिया जाता है कुल्लू की यात्रा के दौरान आपको महादेवी तीर्थ की यात्रा जरूर करनी चाहिए देवी पार्वती के नाम पर बनाया गया है खूबसूरत तीर्थ स्थल को 1962 में बनाया गया था यह शिक्षा का एक केंद्र है जोकि कुल्लू घाटी से लगभग 2 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है यहां पर सांस्कृतिक और धार्मिक शिक्षा दी जाती हैं

कुल्लू में करने लायक चीजें, things to do in Kullu

दोस्तों कुल्लू की यात्रा के उपरांत आपके यहां के दार्शनिक स्थलों की सैर करने के बावजूद भी हम आपको कुछ ऐसे कीजिए बता रहे हैं जिन्हें अपनी यात्रा के दौरान कर सकते हैं और हो सकता है यह चीजें करने में भी काफी सस्ती और सरल भी हो
  1. बाइक सवार
  2. कैंपिंग
  3. क्लाइंबिंग
  4. एडवेंचर
  5. स्नो स्पोर्ट्स
  6. पैराग्लाइडिंग
  7. घुड़सवारी
  8. वोटिंग
कुल्लू में घूमने के लिए सबसे अच्छा समय, Best Place For Travel To Kullu,

दोस्तों अभी तक हम कुल्लू के बारे में जान चुके हैं और वहां के पर्यटक स्थल के बारे में भी जान चुके हैं अब हम यह भी देखेंगे कि यदि हम कुल्लू में घूमने के लिए जाते हैं तो वहां घूमने का सबसे अच्छा समय कौन-सा होगा , यात्रा का जो सबसे अच्छा समय माना जाता है वह होता है जब सभी लोगों की छुट्टियां होती है यानी कि यदि आप अपने दोस्तों के साथ आना चाहते हैं या परिवार के साथ तो छुट्टियां हो ना जरूरी है चाहे वह स्कूल से हो या नौकरी और बिजनेस से, छुट्टियां प्लान करने के बावजूद यदि बात की जाए सबसे अच्छे समय की तो कुल्लू में घूमने के लिए सबसे अच्छा समय माना जाता है सितंबर से फरवरी के बीच दोस्तों यह वह समय होता है जब यहां आपको ठंडा मौसम मिलेगा यदि आपको बर्फ देखनी है तो आप दिसंबर जनवरी में जाकर यात्रा कर सकते हैं और यदि आपको यहां के पर्यटक स्थलों का आनंद अच्छे मौसम में खुल कर लेना है तो आप यहां सितंबर के बाद कभी भी आ सकते हैं,

कुल्लू में रुकने के लिए होटल, Hotels In Kullu

दोस्तों यात्रा के दौरान आपको कुल्लू में कुछ दिन रुकना पड़ सकता है इसलिए हम आपकी सुविधा के लिए कुछ ऐसे होटल बता रहे हैं जो आपके बजट में हो सकते हैं और इन्हें आप ऑनलाइन भी बुक कर सकते हैं उनमें मैं आपको सभी प्रकार की सुविधाएं मिल जाएगी,
  1. होटल हिमालय
  2. होटल कुल्लू वेली
  3. होटल अमित
  4. रिवर साइड गेस्ट हाउस
  5. होटल रिजेंसी
  6. तारा विल्ला होटल
Previous
Next Post »