लाहौर और स्पीति में घूमने की जगह, Best Place for Travel To Lahore And Spiti

लाहौर और स्पीति में घूमने की जगह, Best Place for Travel To Lahore And Spiti

हेलो दोस्तों स्वागत है आपका हमारे ब्लॉग की आज की नहीं पोस्ट में जिसमें हम बात करने वाले हैं लाहौर और स्पीति के प्रसिद्ध दर्शनीय स्थल के बारे में लाहौर और स्पीति हिमाचल प्रदेश का एक जिला है जहां के बारे में आज हम लाहौर और स्पीति के प्रसिद्ध दर्शनीय स्थल के बारे में बात करने वाले हैं इसी आर्टिकल में हमले में जानेंगे लाहौर और स्पीति के इतिहास के बारे में और लाहौर और स्पीति में यात्रा करने का सबसे अच्छा समय होने के साथ-साथ लाहौर और स्पीति का मौसम किस प्रकार से बना रहता है तो इस पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़ना,
स्पीति नदी कहाँ से कहाँ तक बहती है? स्पीति के पूरब में कौनसा स्थान है? लाहौल स्पीति कैसे पहुंचे? लाहौल स्पीति में आवागमन की क्या कठिनाइयां है? स्पीति में किस धर्म का प्रभाव है? स्पीति नदी का पानी किसी काम न आने का क्या कारण है? कैसे स्पीति घाटी तक पहुंचने के लिए स्पीति की भौगोलिक स्थिति क्या है ? लाहौल स्पीति यात्रा लाहौल स्पीति में आवागमन की क्या कठिनाई है स्पीति घाटी पर्यटन स्पीति नदी किस नदी में मिल जाती है ?

लाहौर और स्पीति के बारे मैं, About to Lahore And Spiti

लाहौल और स्पीति भारत के हिमाचल राज्य का एक पर्वतीय जिला है जो की समुद्र तल से 10050 फुट की ऊंचाई पर स्थित है, ऊंची ऊंची पर्वत मालाओं से घिरे लाहौल और स्पीति भारत के प्रसिद्ध पर्यटक स्थलों की सूची में आता है 12210 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्रफल में फैला लाहौल स्पीति अपनी सांस्कृ तिक और ऐतिहासिक विरासत के साथ-साथ यह वास्तुकला और शिल्प कला का एक प्रसिद्ध केंद्र भी हैं जिले में मुख्य रूप से हिंदी भाषा का प्रयोग किया जाता है लेकिन स्थानीय लोगों द्वारा यहां पर हिमाचली भाषा का प्रयोग भी किया जाता है हर साल हजारों की संख्या में आने वाले पर्यटकों के लिए यहां पर अच्छे होटलों के साथ-साथ अच्छे हिल स्टेशन गंतव्य स्थल है जहां यहां आए पर्यटक विभिन्न प्रकार की गतिविधियां कर सकते हैं यदि आप हिमाचल की यात्रा पर हैं तो आपको लाहौल और स्पीति जिले की यात्रा जरूर करनी चाहिए,

लाहौर और स्पीति का मौसम, Weather In Lahore And Spiti

लाहौर और स्पीति जो है वह भारत के हिमाचल प्रदेश का एक जिला होने के कारण चारों तरफ से यह पहाड़ों से ढका हुआ है जिसके चलते यहां का मौसम काफी सामान्य बना रहता है वर्ष के 12 महीनों में से यहां पर 3 महीने गर्मी पड़ती है और 9 महीने ठंड का मौसम रहता है वर्ष का मई से लेकर जुलाई तक का महीना सबसे गर्म वहां होता है इसके बीच यहां का तापमान लगभग 25 डिग्री से 33 डिग्री सेल्सियस के आसपास बना रहता है वही बात की जाए सर्दियों के मौसम की तो यहां पर अक्टूबर से लेकर फरवरी तक मौसम ठंडा बना रहता है इसके बीच आपको यहां पर बर्फ भी देखने को मिल जाती है कभी-कभी तो यहां का तापमान माइनस डिग्री में भी चला जाता है जिसके कारण यहां के लोगों को काफी दिक्कत का सामना करना पड़ता है मानसून की बात की जाए तो जुलाई से सितंबर के बीच मानसून प्रवेश कर जाती है इस बीच यहां पर काफी बारिश देखने को मिल जाती है

लाहौर और स्पीति में घूमने की जगह, Best Place for Travel To Lahore And Spiti
  1. पिन घाटी राष्ट्रीय उद्यान 
  2. सूरज ताल
  3. धनकर गोंपा
  4. स्पीति घाटी 
  5. गोंधला किला
  6. कुंजुम दर्रा
  7. लेह -मनाली हाईवे
पिन घाटी राष्ट्रीय उद्यान - पिन घाटी राष्ट्रीय उद्यान जिसे पिन वैली नेशनल पार्क के नाम से भी जाना जाता है यह हिमाचल के लाहौर और स्पीति जिले के प्रसिद्ध घाटियों में से एक हैं 675 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्रफल में फैला इस घाटी मैं आपको प्राकृतिक सुंदरता के साथ साथ वन्य जीव संरक्षण और वनस्पतियां देखने को मिल जाते हैं फूलों से सजे इस खूबसूरत घाटी में आपको वन्यजीवों के दुर्लभ प्रजातियां भी दिखाई देती हैं अपने बर्फ से ढके खूबसूरत चोटियों के अलावा पर्यटकों के लिए एक खूबसूरत दृश्य प्रस्तुत करते हैं यदि आपको एडवेंचर के अलावा वन्यजीवों को देखने का शौक है तो यह गंतव्य आपके लिए काफी अच्छा होने वाला है क्योंकि यहां आप एडवेंचर भरे रोमांच रास्तों पर चलकर बर्फीले पहाड़ों में रह रहे जानवरों को भी देख सकते हैं यहां आपको हिम तेंदुआ और साइबेरियन इबेक्स के साथ कहीं विलुप्त प्राय प्रजातियां देखने को मिल जाती है
स्पीति नदी कहाँ से कहाँ तक बहती है? स्पीति के पूरब में कौनसा स्थान है? लाहौल स्पीति कैसे पहुंचे? लाहौल स्पीति में आवागमन की क्या कठिनाइयां है? स्पीति में किस धर्म का प्रभाव है? स्पीति नदी का पानी किसी काम न आने का क्या कारण है? कैसे स्पीति घाटी तक पहुंचने के लिए स्पीति की भौगोलिक स्थिति क्या है ? लाहौल स्पीति यात्रा लाहौल स्पीति में आवागमन की क्या कठिनाई है स्पीति घाटी पर्यटन स्पीति नदी किस नदी में मिल जाती है ?

सूरज ताल - लाहौल और स्पीति में बसा सूरज ताल 800 मीटर लंबी एक झील है सूरज ताल झील के बारे में बताया जाता है कि यहां भारत और हिमाचल प्रदेश की सबसे ऊंची जिलों में से एक हैं शायद यही कारण है कि यहां पर वर्ष भर में हजारों की संख्या में पर्यटक आया करते हैं राज्य की राजधानी सीमा से यह 378 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है नौकायान और तैराकी के शौकीन लोगों के लिए यह एक प्रसिद्ध पर्यटक स्थल के रूप में जाना जाता है सर्दियों के टाइम में यह जेल चारों तरफ से सफेद बर्फीले पहाड़ों से ढकी हुई होती हैं यदि आप तैराकी जानते हैं तो सूरज ताल झील में आकर आप तैराकी का आनंद लेना बिल्कुल भी ना बोले इसी के साथ ही एडवेंचर और ट्रैकिंग के साथ-साथ बात की जाए कैंपिंग की तो यहां पर कैंपिंग करना भी एक अच्छा गतिविधि माना जा सकता है पहाड़ों की खूबसूरत और बर्फीले चोटियों पर कैंपिंग करने का मजा ही कुछ अलग होता है, सुनिश्चित करें कि आप अपने दोस्तों के साथ यहां की यात्रा कर पाए और लाहौल और स्पीति के खूबसूरत दृश्य का आनंद ले पाए,

धनकर गोंपा - धनकर गोंपा एक प्रसिद्ध बौद्ध मंदिर हैं जो कि हिमाचल के लाहौल और स्पीति जिले में स्थित है यह ताजा और ताबो शहर के बीच स्पीति घाटी में स्थित है समुद्र तल से 12777 फीट की ऊंचाई पर स्थित यह प्राकृतिक सुंदरता का एक जगमगाता उदाहरण है पहाड़ों में बसा धनकर गोंपा एक पर्यटक गंतव्य होने के साथ-साथ पहाड़ी रास्तों पर चलने वाले लोगों के लिए एक रोमांच भरा सफर होने वाला है आसपास के दृश्य कुछ ऐसे होते हैं कि चारों तरफ आपको बर्फ से ढके पहाड़ और उनके बीच में बने खूबसूरत मकानों के मध्य से गुजरते रास्ते बेहद ही खूबसूरत दिखाई देते हैं, जब आप इस जगह पर विजिट करोगे तो आप सबसे पहले यही सोचोगे कि आखिरकार जिन बौद्ध मठों ने इनकी स्थापना कैसे की होगी क्योंकि देखने में काफी एडवेंचर और डरावने लगते हैं इसलिए यहां की यात्रा करना सुनिश्चित करें और इन खूबसूरत पहाड़ों के मध्य गुजरते हुए रास्तों फोटोग्राफी करना बिल्कुल भी ना भूले,

स्पीति घाटी - हिमालय के उत्तर और पूर्वी भाग में स्थित स्पीति घाटी मैं शायद ही कोई ऐसा व्यक्ति होगा जो सीमांचल आए और स्पीति घाटी के दर्शन ना करें दरअसल उन सभी गाड़ियों में से एक हैं जहां पर पर्यटक सबसे ज्यादा आते हैं खुले आसमान के सुंदर से नीले नजारों के साथ यहां के खूबसूरत पहाड़ और हरे भरे पेड़ पौधे आपको बेहद पसंद आने वाले हैं राज्य की राजधानी शिमला से यह 413 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है जहां आप आसानी से सड़क मार्ग के जरिए पहुंच सकते हैं स्पीति घाटी पौधों के लिए एक शोध और संस्कृति का केंद्र हुआ करता था जो कि दुनिया के सबसे पुराने मठों में से एक है एडवेंचर कैंपिंग और ट्रैकिंग यहां की मुख्य गतिविधियों में एक है बर्फीले पहाड़ों से गुजरते हुए मठों तक का रेगिस्तानी रास्ता काफी रोमांच भरा और एडवेंचर रहने वाला है यदि आप दिसंबर से जनवरी माह के मध्य स्पीति घाटी की यात्रा करते हैं तो आपको यहां पर बर्फ देखने को मिल सकती हैं और यदि आप कुछ दिन रुक कर आते हैं तो आप स्नोफॉल के खूबसूरत दृश्य का आनंद भी दे सकते हैं
स्पीति नदी कहाँ से कहाँ तक बहती है? स्पीति के पूरब में कौनसा स्थान है? लाहौल स्पीति कैसे पहुंचे? लाहौल स्पीति में आवागमन की क्या कठिनाइयां है? स्पीति में किस धर्म का प्रभाव है? स्पीति नदी का पानी किसी काम न आने का क्या कारण है? कैसे स्पीति घाटी तक पहुंचने के लिए स्पीति की भौगोलिक स्थिति क्या है ? लाहौल स्पीति यात्रा लाहौल स्पीति में आवागमन की क्या कठिनाई है स्पीति घाटी पर्यटन स्पीति नदी किस नदी में मिल जाती है ?

गोंधला किला - गोंधला किला हिमाचल के लाहौल और स्पीति जिले में स्थित एक ऐतिहासिक किला है जोकि गोंधला के ठाकुर का घर है जिसे गोंधला किला के नाम से जाना जाता है केले की सबसे बड़ी खासियत और ऐतिहासिक तथ्य यह भी है कि इस किले के बारे में बताया जाता है कि यह अकेला 20 पीढ़ियों पुराना है किले का निर्माण कुल्लू के राजा मान सिंह द्वारा किया गया था आज है एक प्रसिद्ध पर्यटक इस साल के रूप में जगह बनाया हुआ है हालांकि यह बात अलग है के किले का रास्ता काफी रोमांच और एडवेंचर से होकर गुजरता है लेकिन फिर भी पर्यटक इस रास्ते पर चलना उतना ही अच्छा महसूस करते हैं जितना कि आगरा के ताजमहल को देखने के लिए विचलित होते हैं किला शिल्प कला और वास्तुकला का एक अद्भुत नजारा प्रस्तुत करता है किले का निर्माण को किस प्रकार से किया गया है कि इसकी हर एक चीज काफी बनावट की और आकर्षक हैं खास तौर पर इसके लोक दार लकड़ी के लोग और खूबसूरत सीढ़ियों के साथ इस पर बनी खिड़कियां भी किसी प्राचीन कला शिक्षा से कम नजर नहीं आते हैं, इसके अलावा इस किले में नक्काशी दार गुलेल बंदूक और तोपों सहित कई ऐसे हथियार हैं जिन्हें राजा ठाकुर द्वारा प्रयोग किया जाता था और आज है पर्यटकों के लिए एक निशानी और यादगार के आकर्षण बने हुए हैं

कुंजुम दर्रा - कुंजुम दर्रा अपने ट्रैकिंग और एडवेंचर के लिए काफी प्रसिद्ध है इसकी ऊंचाई 4455 मीटर के आसपास हैं कुंजुम दर्रा एक पर्वतीय दर्रा है जोकि लाहौर घाटी और स्पीति घाटी को जोड़ता है राज्य की राजधानी शिमला से यह 344 किलोमीटर की दूरी पर स्थित हैं 10 घंटे के यात्रा सफर के दौरान आते हैं आसानी से सड़क मार्ग के जरिए पहुंच सकते हैं लेकिन इस रास्ते पर अपनी वाहन लेकर तभी आना चाहिए जब आप एक अच्छे ड्राइवरों क्यों चाहिए पहाड़ी रास्तों पर ड्राइविंग खबर घुमावदार मोड़ पर गाड़ी चलाना बेहद मुश्किल होता है कुंजुम दर्रा पहुंचना चाहते हो तो जून जुलाई से अक्टूबर-नवंबर माह के मध्य आना तय करें क्योंकि इसी बीच यह धरा खुला रहता है बाकी के दिनों में मौसम के खराब होने और सड़क निर्माण के सिलसिले में बंद रहते हैं पहाड़ की खूबसूरत सबको से गुजरता हुआ सफर के बीच में कुंजुम माता का मंदिर पड़ता है माता का आशीर्वाद लेकर अपनी आगे की यात्रा प्रारंभ करें, व्यूप्वाइंट और खूबसूरत पहाड़ों की चोटियां और दर्दे तक पहुंचते-पहुंचते रास्ते में मिलने वाली चट्टानों मैं फोटो खिंचवाना बिल्कुल भी ना भूलें,

लेह -मनाली हाईवे - 428 किलोमीटर कोलंबा यह राज में लेह से मनाली के बीच स्थित एक बेहद खूबसूरत हो और मनमोहक दृश्य प्रस्तुत करने वाला एक राजमार्ग हैं दरअसल यह एक रोड ट्रिप नहीं है बल्कि यह एक ऐसा नजारा प्रस्तुत करने वाला है जो कि आपके मन को अंदर से मंत्रमुग्ध कर देता है चारों तरफ से आपको बाहर दिखाई नहीं दिए जिनमें खूबसूरत बर्फ और नीला आसमान दिखाई देता है और हसीन वादियों के बीच से गुजरती यह चमचमाती सफर काफी खास और यादगार रहती है,
स्पीति नदी कहाँ से कहाँ तक बहती है? स्पीति के पूरब में कौनसा स्थान है? लाहौल स्पीति कैसे पहुंचे? लाहौल स्पीति में आवागमन की क्या कठिनाइयां है? स्पीति में किस धर्म का प्रभाव है? स्पीति नदी का पानी किसी काम न आने का क्या कारण है? कैसे स्पीति घाटी तक पहुंचने के लिए स्पीति की भौगोलिक स्थिति क्या है ? लाहौल स्पीति यात्रा लाहौल स्पीति में आवागमन की क्या कठिनाई है स्पीति घाटी पर्यटन स्पीति नदी किस नदी में मिल जाती है ?

लाहौर और स्पीति में करने लायक चीजें, things to do in Lahore and ispiti

दोस्तों लाहौर और स्पीति की यात्रा के उपरांत आपके यहां के दार्शनिक स्थलों की सैर करने के बावजूद भी हम आपको कुछ ऐसे कीजिए बता रहे हैं जिन्हें अपनी यात्रा के दौरान कर सकते हैं और हो सकता है यह चीजें करने में भी काफी सस्ती और सरल भी हो
  1. बाइक सवार
  2. कैंपिंग
  3. क्लाइंबिंग
  4. एडवेंचर
  5. स्नो स्पोर्ट्स
  6. पैराग्लाइडिंग
  7. घुड़सवारी
  8. वोटिंग
लाहौर और स्पीति में घूमने के लिए सबसे अच्छा समय, Best TIme To Travel In Lahore And Spiti

दोस्तों अभी तक हम लाहौर और स्पीति के बारे में जान चुके हैं और वहां के पर्यटक स्थल के बारे में भी जान चुके हैं अब हम यह भी देखेंगे कि यदि हम लाहौर और स्पीति में घूमने के लिए जाते हैं तो वहां घूमने का सबसे अच्छा समय कौन-सा होगा , यात्रा का जो सबसे अच्छा समय माना जाता है वह होता है जब सभी लोगों की छुट्टियां होती है यानी कि यदि आप अपने दोस्तों के साथ आना चाहते हैं या परिवार के साथ तो छुट्टियां हो ना जरूरी है चाहे वह स्कूल से हो या नौकरी और बिजनेस से, छुट्टियां प्लान करने के बावजूद यदि बात की जाए सबसे अच्छे समय की तो लाहौर और स्पीति में घूमने के लिए सबसे अच्छा समय माना जाता है सितंबर से फरवरी के बीच दोस्तों यह वह समय होता है जब यहां आपको ठंडा मौसम मिलेगा यदि आपको बर्फ देखनी है तो आप दिसंबर जनवरी में जाकर यात्रा कर सकते हैं और यदि आपको यहां के पर्यटक स्थलों का आनंद अच्छे मौसम में खुल कर लेना है तो आप यहां सितंबर के बाद कभी भी आ सकते हैं,

लाहौर और स्पीति में रुकने के लिए होटल, Hotels In Lahor And Spiti

दोस्तों यात्रा के दौरान आपको लाहौर और स्पीति में कुछ दिन रुकना पड़ सकता है इसलिए हम आपकी सुविधा के लिए कुछ ऐसे होटल बता रहे हैं जो आपके बजट में हो सकते हैं और इन्हें आप ऑनलाइन भी बुक कर सकते हैं उनमें मैं आपको सभी प्रकार की सुविधाएं मिल जाएगी,

  1. धर्मा गैलेक्सी
  2. होटल अंबिका रेसीडेंसी
  3. दा राधिका होटल
  4. शिवालय कॉटागेस
  5. फॉरेस्ट व्यू होम
  6. होटल रिवर बैंक
  7. ऑर्चर्ड ग्रीनस
  8. हॉस्टल मनाली
Previous
Next Post »