लखीमपुर के दर्शनीय स्थल,Lakhimpur Attractions

दोस्तों स्वागत है आपका हमारे ब्लॉग के आज की नई पोस्ट में, जैसा कि दोस्तों आप सभी लोग जानते ही हैं कि हमारे ब्लॉग पर आपको हर हफ्ते एक नई पोस्ट महत्वपूर्ण जानकारी के साथ साझा मिलती हैं जो हमारे नियमित पाठक हैं उन्हें उन्हें पता होगा कि महीने में दो लेख यात्रा प्लानिंग के लिए मिलते हैं और उसी कि श्रेणी में आज हम लाए हैं आपके लिए लखीमपुर की दार्शनिक स्थलों के बारे में जानकारी वैसे तो लखीमपुर में घूमने के लिए बहुत सारे जगह हैं लेकिन आज की पोस्ट में हम बात करेंगे कुछ ऐसी जगहों के बारे में जहां के बारे में बहुत कम लोगों को पता है और उस जगह को एक्सप्लोर करके आप अपनी एक खूबसूरत यात्रा की शुरुआत कर सकते हैं तो चलिए शुरू करते हैं आज का लेख आशा करते हैं कि आपको यह पोस्ट जरूर पसंद आएगी इसलिए इसे लास्ट तक पढ़ना बिल्कुल भी ना भूले,  
लखीमपुर में घूमने के लिए सबसे अच्छी जगह लखीमपुर में करने के लिए सबसे अच्छी चीजें  लखीमपुर में घूमने का सबसे अच्छा समय   लखीमपुर कैसे पहुंचें  लखीमपुर नगांव लखीमपुर असम  लखीमपुर पर्यटन स्थलों का भ्रमण लखीमपुर टॉप डेस्टिनेशंस लखीमपुर टूरनगांव टूर एंड ट्रैवल गाइड लखीमपुर पर्यटन लखीमपुर पर्यटन स्थल लखीमपुर यात्रा लखीमपुर यात्रा गाइड लखीमपुर ट्रिप  नगांव ट्रिप प्लानर  नगांव से एक दिवसीय यात्रा लखीमपुर में घूमने की जगह लखीमपुर के दर्शनीय स्थल और आकर्षण लखीमपुर में मंदिर लखीमपुर में घूमने के लिए शीर्ष स्थान  लखीमपुर में यात्रा करने के स्थान लखीमपुर में पर्यटन स्थल
lakhimpurcreative Commons, License-(CC BY - SA 3.0)

लखीमपुर के बारे में , About Lakhimpur

प्रकृति की खूबसूरत वादियों के बीच में बसा लखीमपुर भारत के असम राज्य का एक जिला है जो की यहां के प्रसिद्ध दार्शनिक स्थलों के लिए जाना जाता है भौगोलिक स्थिति की बात की जाए तो जिले का कुल क्षेत्रफल 10 वर्ग किलोमीटर है शुद्ध ताजी आबोहवा इसे और अधिक खूबसूरत बनाती है पहाड़ों की रोमांस भरे रास्ते और सुंदर यहां के मनोरम दृश्य पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करती है लोगों का भोलापन और अपनापन का एहसास यहां के स्थानीय लोगों में ज्यादा पाई जाती हैं वैसे तो यहां की जनसंख्या काफी अधिक है लेकिन आंकड़ों की बात करें तो सन 2021 की जनगणना के अनुसार जिले की कुल जनसंख्या 1202209 है वही यात्रा के दौरान आपको एक और बात का पता होना चाहिए कि असम में असमिया भाषा के अलावा बंगाली भाषा भी बोली जाती है इसलिए लखीमपुर कि लोग भी असमिया भाषा का प्रयोग अधिक किया करते हैं लेकिन हिंदी भाषा का प्रयोग भी शहरी और बाजार क्षेत्र में की जाती है एक कृषि प्रधान जिला होने के कारण लखीमपुर का मुख्य व्यवसाय कृषि हैं कृषि पर ही अधिकांश जनसंख्या निर्भर है और अपना जीवन यापन कर रही है

लखीमपुर के दर्शनीय स्थल,Lakhimpur Attractions
  1. गांधी पार्क 
  2. मिलरॉय अभयारण्य 
  3. लेटेकु पुखुरी 
गांधी पार्क - लखीमपुर के दार्शनिक स्थल की सूची में गांधी पार्क का नाम सर्वश्रेष्ठ स्थानों में लिया जाता है खूबसूरत तरीके से सजाया हुआ पार्क इसमें लोगों के बैठने के लिए आरामदायक सीटे बनाई गई है प्राकृतिक खूबसूरती के साथ यदि आप यहां सुकून के दो पल बिताना चाहते हैं तो आप यहां अपने दोस्तों के साथ भी आ सकते हैं आस पास के लोग यहां अपने प्रेमी के साथ आना पसंद करते है
लखीमपुर में घूमने के लिए सबसे अच्छी जगह लखीमपुर में करने के लिए सबसे अच्छी चीजें  लखीमपुर में घूमने का सबसे अच्छा समय   लखीमपुर कैसे पहुंचें  लखीमपुर नगांव लखीमपुर असम  लखीमपुर पर्यटन स्थलों का भ्रमण लखीमपुर टॉप डेस्टिनेशंस लखीमपुर टूरनगांव टूर एंड ट्रैवल गाइड लखीमपुर पर्यटन लखीमपुर पर्यटन स्थल लखीमपुर यात्रा लखीमपुर यात्रा गाइड लखीमपुर ट्रिप  नगांव ट्रिप प्लानर  नगांव से एक दिवसीय यात्रा लखीमपुर में घूमने की जगह लखीमपुर के दर्शनीय स्थल और आकर्षण लखीमपुर में मंदिर लखीमपुर में घूमने के लिए शीर्ष स्थान  लखीमपुर में यात्रा करने के स्थान लखीमपुर में पर्यटन स्थल
gandi parkcreative Commons, License-(CC BY - SA 4.0)

मिलरॉय अभयारण्य - 49 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्रफल में पहला एक खूबसूरत सा वन्य जीव अभ्यारण जिसे मिलरॉय अभयारण्य के नाम से जाना जाता है लखीमपुर का खूबसूरत जगहों इस जगह का नाम काफी प्रचलित है पृथ्वी के स्वर्ग कहलाने वाली यह इस जगह में आपको पशु पक्षियों के विभिन्न प्रजातियों के साथ-साथ तरह-तरह की वनस्पतियां यहां पाई जाती हैं यदि आप प्रकृति प्रेमी हैं तो आपको इस खूबसूरत सी जगह के दर्शन जरूर करना चाहिए

लेटेकु पुखुरी - माधव देव के जन्म स्थल के रूप में प्रसिद्ध लेटेकु पुखुरी उन जगहों में से एक है जहां पर पर्यटक यात्रा के लिए आया करते हैं और सदाबहार यादें अपने साथ ले जाया करते हैं लखीमपुर शहर से लगभग 15 किलोमीटर की दूरी पर स्थित यह खूबसूरत स्थान ऐतिहासिक तौर तो काफी प्रसिद्ध है ही यात्रा के लिए भी अच्छा विकल्प है प्राकृतिक सुंदरता और आसपास की ताजी आवोहवा मंत्रमुग्ध कर देने वाले खूबसूरत से दृश्य कहीं ना कहीं आपको दोबारा आने के लिए मजबूर करने वाले हैं इसके पास में स्थित झील के सामने आप फोटो खींचाना बिल्कुल भी ना भुले,
लखीमपुर में घूमने के लिए सबसे अच्छी जगह लखीमपुर में करने के लिए सबसे अच्छी चीजें  लखीमपुर में घूमने का सबसे अच्छा समय   लखीमपुर कैसे पहुंचें  लखीमपुर नगांव लखीमपुर असम  लखीमपुर पर्यटन स्थलों का भ्रमण लखीमपुर टॉप डेस्टिनेशंस लखीमपुर टूरनगांव टूर एंड ट्रैवल गाइड लखीमपुर पर्यटन लखीमपुर पर्यटन स्थल लखीमपुर यात्रा लखीमपुर यात्रा गाइड लखीमपुर ट्रिप  नगांव ट्रिप प्लानर  नगांव से एक दिवसीय यात्रा लखीमपुर में घूमने की जगह लखीमपुर के दर्शनीय स्थल और आकर्षण लखीमपुर में मंदिर लखीमपुर में घूमने के लिए शीर्ष स्थान  लखीमपुर में यात्रा करने के स्थान लखीमपुर में पर्यटन स्थल
letukcreative Commons, License-(CC BY - SA 4.0)

लखीमपुर का प्रसिद्ध खानपान, Famous food of Lakhimpur

दोस्तों लखीमपुर मैं यात्रा के दौरान आपको विश्राम के लिए होटल और खाने के लिए एक शुद्ध और स्वादिष्ट खानपान चाहिए होता है सफर का मजा तभी आता है जब वहा के स्थानीय खान पान का आंनद लिया जाए, स्वाद के शौकीन लोगों के लिए लखीमपुर का स्थानीय खान पान कही न कही उनके मुंह में पानी लाने वाला है यहां के स्थानीय मसालों द्वारा और पारंपरिक तरीकों से बनाया गया चट पटा खाना आपको यहां दुबारा आने के लिए बेताब करने वाला है जिस तरह हर राज्य के अलग अलग भोजन के व्यंजन होते हैं ठीक उसी प्रकार से लखीमपुर के भी अलग अलग भोजन के व्यंजन है जो कि यहां के प्रसिद्ध खानपान की श्रेणी में आते हैं और आपको कहीं ना कहीं ये भोजन के व्यंजन जरूर पसंद आने वाले है मांसाहारी हो या शाकाहारी दोनों तरह के व्यंजन यहां काफी बनाएं जाते है हम आपको लखीमपुर के खानपान के कुछ स्वादिष्ट व्यंजन के बारे में बताने वाले हैं जो कि आपको लखीमपुर की यात्रा के दौरान मदद करेगी और आप आसानी से किसी भी व्यंजन के स्वाद का आनंद ले सकते हैं

मासोर टेंगा – मासोर टेंगा लखीमपुर की सबसे प्रसिद्ध और स्वादिष्ट खानपान में से एक हैं नॉन वेजिटेरियन खाने वाले लोगों के लिए यह एक अच्छी डिश होने वाली है मासोर टेंगा मैं नींबू से बने शोरबा को धीमी आंच में पकाया जाता है जो कि खाने में काफी स्वादिष्ट और चटपटा होता है

पारो मांशो – कबूतर के मांस से बनने वाली यह प्रसिद्ध असमिया डिश लोगों को काफी पसंद आती है खास विधि और स्थानीय मसालों द्वारा बनी यह स्वादिष्ट डिश सर्दियों के समय में ठंड से बचने के लिए अधिक लोगों द्वारा खाया जाता है अपनी चटपटे स्वाद के लिए प्रसिद्ध यह डिश यहां आएं पर्यटकों द्वारा भी काफी पसंद की जाती है
लखीमपुर में घूमने के लिए सबसे अच्छी जगह लखीमपुर में करने के लिए सबसे अच्छी चीजें  लखीमपुर में घूमने का सबसे अच्छा समय   लखीमपुर कैसे पहुंचें  लखीमपुर नगांव लखीमपुर असम  लखीमपुर पर्यटन स्थलों का भ्रमण लखीमपुर टॉप डेस्टिनेशंस लखीमपुर टूरनगांव टूर एंड ट्रैवल गाइड लखीमपुर पर्यटन लखीमपुर पर्यटन स्थल लखीमपुर यात्रा लखीमपुर यात्रा गाइड लखीमपुर ट्रिप  नगांव ट्रिप प्लानर  नगांव से एक दिवसीय यात्रा लखीमपुर में घूमने की जगह लखीमपुर के दर्शनीय स्थल और आकर्षण लखीमपुर में मंदिर लखीमपुर में घूमने के लिए शीर्ष स्थान  लखीमपुर में यात्रा करने के स्थान लखीमपुर में पर्यटन स्थल

आलू पिटिका – रात के खाने में लखीमपुर के लोगों द्वारा सबसे ज्यादा बार खाए जाने वाला रात्रि संस्करण आलू पिटिका है जिसे मैश किए गए आलू की सहायता से बनाया जाता है साधारण सा दिखने वाली यह डिश सरसों के तेल से चोंखा जाता है और दाल चावल के साथ इसे साइड डिश के रूप में प्रयोग किया जाता है इसके स्वाद को बढ़ाने और खूबसूरत दिखने के लिए इसे हरे कटे हुए धनिया से सजाया जाता है

ऊ खट्टा - मुंह के स्वाद को शिखर तक पहुंचाने के लिए लखीमपुर की चटपटी और मीठी चटनी जिसे ऊ खट्टा के नाम से जाना जाता है यहां की लोकप्रिय खानपान में से एक है समानता है इसे दाल चावल और रोटी सब्जी के साथ खाया जाता है इसका खट्टा मीठा स्वाद लोगों को काफी पसंद आता है

खार – लखीमपुर की लोकप्रिय डिश में शामिल खार एक नॉन वेजिटेरियन डिश है जिसे खार और दालें के साथ साथ कच्चा पपीता के मिक्सर से बनाया जाता है जो की इसके स्वाद को और अधिक बढ़ा देता है खास तौर पर इस डिश को चावल के साथ ख़ाना ज्यादा पसंद किया जाता है

लखीमपुर का पहनावा ,dress of lakhimpur

दोस्तों जिस प्रकार से लखीमपुर की प्रत्येक पारंपरिक चीज़े काफी प्रसिद्ध है ठीक उसी प्रकार से लखीमपुर का पहनावा और वेशभूषा भी काफी अलग है अपनी परंपरागत वस्त्रों और आभूषणों से सजे यहां के लोग बहुत खूबसूरत लगते है यही कारण है कि लखीमपुर की संस्कृति और परंपरा देश के अन्य राज्यों की बातें काफी अलग हैं वैसे तो यहां के लोग अपने सांस्कृति के अनुसार ही वस्त्र धारण किया करते हैं लेकिन खासतौर पर हिंदू धर्म के त्योहारों के दिन लोगों द्वारा अपनी संस्कृति और परंपरा के अनुसार वस्त्र पहने जाते हैं आजकल के युवाओं द्वारा साउथ इंडिया के फैशन चल रहे हैं जिसके कारण अधिकांश राज्यों की संस्कृति उन्हें अपनाना पसंद करती है लेकिन कभी कबार संस्कृत की अनूठी छवियां भी सामने आ जाती है यहां के लोगों का महिलाएं और पुरुषों का परिधान अलग – अलग होता है यहां के महिलाओं द्वारा द्वार खास तौर पर मेखला-चादर पहना ज्यादा पहना जाता है मेखला को असमिया महिलाओं द्वार कमर के नीचे के भाग में पहना जाता है जबकि चादर को ऊपरी हिस्से में धारण किया जाता हैं पुरुषों द्वार धोती-गमोसा का उपयोग सांस्कृतिक कार्यक्रमों और परंपरा के रुप मे किया जाता है 
लखीमपुर में घूमने के लिए सबसे अच्छी जगह लखीमपुर में करने के लिए सबसे अच्छी चीजें  लखीमपुर में घूमने का सबसे अच्छा समय   लखीमपुर कैसे पहुंचें  लखीमपुर नगांव लखीमपुर असम  लखीमपुर पर्यटन स्थलों का भ्रमण लखीमपुर टॉप डेस्टिनेशंस लखीमपुर टूरनगांव टूर एंड ट्रैवल गाइड लखीमपुर पर्यटन लखीमपुर पर्यटन स्थल लखीमपुर यात्रा लखीमपुर यात्रा गाइड लखीमपुर ट्रिप  नगांव ट्रिप प्लानर  नगांव से एक दिवसीय यात्रा लखीमपुर में घूमने की जगह लखीमपुर के दर्शनीय स्थल और आकर्षण लखीमपुर में मंदिर लखीमपुर में घूमने के लिए शीर्ष स्थान  लखीमपुर में यात्रा करने के स्थान लखीमपुर में पर्यटन स्थल

लखीमपुर घूमने का सबसे अच्छा समय,Best time to visit Lakhimpur  

दोस्तों जब कभी भी हम कहीं भी यात्रा करते हैं तो हमारे पास सबसे पहले यही सवाल होता है कि जहां हम यात्रा कर रहे हैं वहां का मौसम कैसा है और हमें किस हिसाब से यात्रा का प्लान बनाना है तो आपको घबराने की बिल्कुल भी जरूरत नहीं है दोस्तों हम हैं आपके साथ और हम आपको बताएंगे लखीमपुर में घूमने का सबसे अच्छा समय के बारे में, वैसे तो दोस्तों जब कभी भी आपका मन करे आपको घूमने के लिए चला जाना चाहिए लेकिन यदि बात की जाए सबसे अच्छे समय के सबसे अच्छा समय निर्भर करता है वहां के मौसम पर और बात की जाए आसान के मौसम के अनुसार घूमने का प्लान बनाने के लिए तो अक्टूबर से फरवरी माह का समय लखीमपुर राज्य मैं यात्रा का सबसे अच्छा समय है इन दिनों यहां का तापमान सामान्य बना रहता है जिसके कारण यहां आए पर्यटक आसानी से एक जगह से दूसरी जगह आना-जाना कर सकते हैं लखीमपुर आए और यहां की प्राकृतिक सुंदरता का आनंद ना ले तो वह भी अपने आप में एक कमी महसूस होती है इसलिए अक्टूबर से फरवरी का महीना लखीमपुर मैं यात्रा का सबसे अच्छा समय है, गर्मियों में यहां का तापमान थोड़ा ज्यादा होता है जिसके कारण बाहर घूमना मुश्किल भरा हो सकता है लेकिन जिन लोगों को स्विमिंग के अलावा प्रकृति की हरियाली पसंद है उन्हें गर्मियों में यहां यात्रा का प्लान बनाने में बिल्कुल भी नहीं सोचना चाहिए क्योंकि गर्मियों में प्रकृति अपना एक नया रूप धारण कर लेती है जिसके कारण चारों दिशाओं की हरियाली काफी मनमोहक महसूस होती है

लखीमपुर में रुकने के लिए होटल, Hotels to stay in Lakhimpur  

यात्रा की खूबसूरत शुरुआत और यादगार भरे लम्हों की किताब की शुरुआत होती है अच्छी सुविधा वाले होटलों से, वह कहते हैं ना कि जहां भी जाओ वहां की यादें अपने साथ लेकर आओ तो उस चीज में सबसे बड़ी भूमिका निभाते हैं वहां की रहने की व्यवस्था वैसे तो लखीमपुर मैं आपको बहुत से होटल में जाएंगे जहां आपको सारी सुविधाएं मिल जाएगी लेकिन कुछ ऐसे होटल भी है जो कि सारे सुविधाएं होते हुए भी बजट फ्रेंडली हैं तो वहां रहना कौन पसंद नहीं करेगा हम आपको कुछ ऐसे होटल बता रहे हैं जिनका स्टे प्राइस लो है और यहां आपको बहुत सारी सुविधाएं मिल जाएगी और इन्हें आप अपनी यात्रा के प्लान के हिसाब से ऑनलाइन बुक कर सकते हैं
लखीमपुर में घूमने के लिए सबसे अच्छी जगह लखीमपुर में करने के लिए सबसे अच्छी चीजें  लखीमपुर में घूमने का सबसे अच्छा समय   लखीमपुर कैसे पहुंचें  लखीमपुर नगांव लखीमपुर असम  लखीमपुर पर्यटन स्थलों का भ्रमण लखीमपुर टॉप डेस्टिनेशंस लखीमपुर टूरनगांव टूर एंड ट्रैवल गाइड लखीमपुर पर्यटन लखीमपुर पर्यटन स्थल लखीमपुर यात्रा लखीमपुर यात्रा गाइड लखीमपुर ट्रिप  नगांव ट्रिप प्लानर  नगांव से एक दिवसीय यात्रा लखीमपुर में घूमने की जगह लखीमपुर के दर्शनीय स्थल और आकर्षण लखीमपुर में मंदिर लखीमपुर में घूमने के लिए शीर्ष स्थान  लखीमपुर में यात्रा करने के स्थान लखीमपुर में पर्यटन स्थल
  1. होटल सरोज कृष्णा
  2. लखिमपुर होटल
  3. नारायणा होटल
  4. होटल सरना
  5. होटल आशीर्वाद

Previous
Next Post »